मंगोलपुरी खुर्द गांव में बीती रात घर में घुसकर युवक को घायल कर हमलावर फरार हो गए वारदात सीसीटीवी कैमरों में कैद हो गई है। जिसमें हैरान करने वाली बात ये दिखी की हमलावरों में एक महिला भी सीसीटीवी में भागती नजर आईं मंगोलपुरी थाना पुलिस मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश कर रही है। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि आरोपियों ने एक दिन पहले भी घर के पास दुकान के बाहर खड़े दिखाई दिये थे।
जानकारी के मुताबिक घायल युवक की पहचान सचिन शौकिन के रूप में हुई है। वह परिवार के साथ मंगोलपुरी खुर्द गांव में रहता है। वह अपना निजी कारोबार करता है। पुलिस को बीती रात सचिन को घर में घुसकर गोली मारने की सूचना मिली। पुलिस मौके पर पहुंची। पूरे फर्श पर खून बिखरा हुआ था। सचिन को उसका परिवर सरोज अस्पताल ले जा चुका था। पुलिस को मौके पर से आधा दर्जन के करीब कारतूस का खोल बरामद हुए। डॉक्टरों ने सचिन की हालत गंभीर बताई। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि सचिन के बयान पर पता चला है कि विशाल को वह पिछले दो से तीन सालों से जानता है। पांच महीने पहले विशाल ने उससे चार लाख रुपये उधार लिये थे। सोने की चैन गिरवी रखवा दी थी। बाद में विशाल चैन मांगने लगा था। उसको कहा था कि पैसे वापिस कर दो और सोने की चैन वापिस ले जाओ। विशाल ने उसको धमकी दी थी कि चैन वापिस नहीं करने पर वह जान से मार देगा। बीती रात वह मैन गेट का ताला लगाने के लिए घर से बाहर अकेला आया था। विशाल और उसके साथ आए लडक़े के हाथ में पिस्टल थी। विशाल ने गेट जबरन खोल दिया। विशाल ने गोलियां चलानी शुरू कर दी। वह कमरे से बाथरूम घुस गया। उसका दरवाजा धक्का देकर खोल दिया। वह बाहर की तरफ भागा। विशाल ने उसपर गोली चला दी। गोली पेट में लगी। जब पत्नी मौके पर पहुंची। विशाल के साथी ने कहा कि इसको भी गोली मार दो। यह भी बचनी नहीं चाहिए। शोर मचाने पर तीनों मौके पर से फरार हो गए। गोली की आवाज सुनकर परिवार वाले मौके पर पहुंचे। सचिन फर्श पर खून से लथपथ हालत में पड़ा था। पुलिस को वारदात की जानकारी देकर सचिन को कार से सरोज अस्पताल में भर्ती कराया। डॉक्टरों ने उसे सर गंगा राम अस्पताल में शिफ्ट कर दिया। डॉक्टरों ने उसकी हालत गंभीर बताई। पुलिस ने घर के पास लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज खंगाली। जिसमें आगे विशाल उसके पीछे एक अन्य युवक और उसके पीछे एक लडक़ी भागती दिखाई दे रही है। जिस तरह से वारदात को अंजाम दिया है। उससे लगता है कि सचिन को सोची समझी साजिश के तहत गोली मारी गई थी। पुलिस को वारदात के पीछे किसी अन्य वजह का भी शक है

( सचिन राणा )

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here